kalimah.top
a b c d e f g h i j k l m n o p q r s t u v w x y z 0 1 2 3 4 5 6 7 8 9 #

21 – hum toh كلمات اغاني

Loading...

हम तो, रातों में नींद के प्यासे हैं
हमको, हमको ख़्वाब क्यूँ आते हैं?
कुछ अनकहे, अनसुने सवालों के ज़वाब दो

फ़ासले, बेचैनियाँ मिट अब जाने दो

हम तो, रास्ते भी भूल जाते हैं
हमको, हमको दूर से बुलाते हो
कुछ ‘हम’ सा ये दर्द हुआ
दीवानों का ये शौक है
फ़ासले, बेचैनियाँ मिट अब जाने दो

ये तो, जाने भी ना हम सदा से
माने भी ना हम ये तो
जाने भी ना हम सदा से
माने भी ना हम…

दीवानगी नहीं तो फिर क्या?
ज़िंदगी ये तो बता
क्या हुआ, क्या हो गया मुझे तो ना पता
सब बुरा लगे भला
बोलो क्यूँ भला?

ये तो, मेरी आवाज़ के दीवाने
सारे जहां को ना माने
मेरी आवाज़ के दीवाने